फिनलैंड कैसे बना Happiest Country In The World,इसमें भारत की रैंकिंग क्या है ?

UN के Sustainable डेवलपमेंट नेटवर्क द्वारा वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट 2021 जारी की गई है| फिनलैंड को एक बार फिर लगातार चौथी बार Happiest Country In The World का ताज पहनाया गया।

वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट क्या है ?

World Happiness Report

द वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट वैश्विक खुशी की स्थिति का एक ऐतिहासिक रिपोर्ट है, जो 149 देशों को यह देखकर रैंक करता है की वे देश कितने खुश है |

द वर्ल्ड हैप्पिनेस रिपोर्ट 2021 में कोविड -19 के प्रभावों और पूरी दुनिया के लोगों पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

वार्षिक रिपोर्ट प्रति व्यक्ति जीडीपी , हेल्थ लाइफ Expectancy और निवासियों की राय के आधार पर देशों को रैंक करती है।

इस सर्वे में देशों को 1 से 10 के बीच अंक देकर मापां जाता है |

इस रिपोर्ट में लोगों से कुछ खास सवाल पूछे जाते है, जिनके माध्यम से UN इन देशों को रैंकिंग देता है|

कुछ चुनिंदा सवाल इस प्रकार है :-

Q:- देश में लोग एक-दूसरे की मदद करने के लिए कितने आगे रहते है, और लोगों को कितना सपोर्ट करते है |

Q:- देश में अपना मनपसंद जीवन जीने की स्वतंत्रता है या नहीं ?

Q:- देश की सरकार कितनी भ्रष्ट है ?

वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट कैसे तैयार की जाती है ?

वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट को तैयार करने के 6 पैरामीटर है:-

  • प्रति व्यक्ति जीडीपी 
  • हेल्थ लाइफ Expectancy 
  • आजादी
  • विश्वास
  • सामाजिक समर्थन
  • उदारता ( Generous )

फिनलैंड कैसे बना Happiest Country In The World?

Finland

खुशहाली की बात करें तो लगातार चौथे साल, फिनलैंड नंबर एक पर है।

क्यूंकी इनका टॉप का एजुकेशन सिस्टम देश-दुनिया में इनको शीर्ष स्थानों में शुमार करता है|

कभी-कभी दक्षिण कोरिया, जापान और सिंगापुर जैसे देश भी एजुकेशन के मामले में इससे पीछे छूट जाते है |

 इनकी यह सफलता यहाँ के अधिकांश शिक्षकों के माध्यम से आती है, जिनके लिए मास्टर डिग्री (राज्य द्वारा फन्डिंग) की आवश्यकता होती है|

यहाँ का एजुकेशन सिस्टम बच्चों को रटने के बजाए एक्सपेरिमेंट, प्रैक्टिकल शिक्षण पर और समान अवसर पर अधिक ध्यान केंद्रित करती है।

इसके अलावा, फ़िनलैंड में Welfare लाभ, भ्रष्टाचार का निम्न स्तर, एक अच्छी तरह से काम कर रहे लोकतंत्र और स्वतंत्रता की एक सहज भावना है|

जो इनकी खुशी का एक बड़ा हिस्सा है।

यह देश अधिक संपन्न, प्रगतिशील टैक्स सिस्टम और धन वितरण में  एक संपन्न और दुनिया का सबसे बढ़िया हेल्थकेयर सिस्टम है |

भारत की रैंकिंग इतनी पीछे क्यूँ है ?

India

जैसा कि दुनिया ने 20 मार्च को खुशी दिवस मनाया, हमें संयुक्त राष्ट्र द्वारा सूचित किया गया कि भारत ग्रह पर सबसे कम खुशहाल देशों में से एक है।

भारत 149 देशों में से 139 वें स्थान पर है।

भ्रष्टाचार से ग्रस्त भारतीय समाज पर लोगों को बहुत कम भरोसा है। 

नौकरशाहों, राजनेताओं, कानून प्रवर्तकों और टैक्स कलेक्टर के माध्यम से नागरिकों और राज्य के बीच का इंटरफेस अक्सर घूसखोरी और लेन-देन वाला होता है। 

यहाँ भरोसा करने की कोई नींव ही नहीं है।

यह हमारे लोगों की “अप्रसन्नता” की अभिव्यक्ति है, उन्हें स्वतंत्र, आरामदायक और सुरक्षित जीवन प्रदान करने में इस देश की सरकार विफल रही है।

दुनिया के 10 Happiest Country In The World

ख़ुशी को मापना एक मुश्किल काम है, लेकिन संयुक्त राष्ट्र की एक पहल यह जानने की कोशिश कर रही है।

नीचे दुनिया के 10 सबसे खुश देशों का नाम दिया गया है |

1. फिनलैंड

2. डेनमार्क

3. स्विट्जरलैंड

4. आइसलैंड

5. नीदरलैंड

6. नॉर्वे

7. स्वीडन

8. लक्समबर्ग

9. न्यूजीलैंड

10. ऑस्ट्रिया

139. इंडिया

फिनलैंड से जुड़े कुछ मजेदार तथ्य :-

  • फिनलैंड दुनिया का सबसे खुशहाल देश है|
  • Angry Birds गेम की उत्पत्ति फिनलैंड में हुई है |
  • देश का 74% भाग जंगल से भरा हुआ है|
  • फिनलैंड के बच्चे साल में दो बार अपना जन्मदिन मनाते है |
  • फिनलैंड में 187,888 झीलें हैं|
  • फिनलैंड दुनिया का सबसे बड़ा कॉफी पीने वाला देश हैं|
  • यहाँ के लोग माध्यमिक विद्यालय में स्वीडिश भाषा को सीखते हैं|
  • फिनलैंड की जनसंख्या लगभग साढ़े 5 करोड़ है|
  • Northern lights देखने के लिए सबसे अच्छा स्थान है|
  • SKIING के लिए दुनिया की सबसे अच्छी जगह है |

अगर आपको Happiness Country In The World के ऊपर लिखी जानकारी अच्छी लगी हो तो शेयर जरूर करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *