Ratan Tata Success Story In Hindi | रतन टाटा की सफलता से जुड़ी 42 खास बातें

Ratan Tata Success Story In Hindi, रतन टाटा को आज कौन नहीं जानता भारत देश को बिजनस के छेत्र में गौरवपूर्ण उपलब्धि दिलाने के वजह से ये हमेशा चर्चे में रहते है|

तो चलिए जानते है रतन टाटा से जुड़े वो खास बातें जो आपको जाननी चाहिए :-

  • उनका पूरा नाम रतन नवल टाटा है|
  • रतन टाटा अब 82 साल के हो गए हैं|
  • रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 को बॉम्बे, अब मुंबई में हुआ था।
  • उनकी ऊंचाई 177 सेंटीमीटर है|
  • उन्होंने 8वीं कक्षा तक कैंपियन स्कूल, मुंबई से पढ़ाई की।
  • 1955 में, न्यूयॉर्क शहर के रिवरडेल कंट्री स्कूल से Graduation किया था।
  • 1959 में, उन्होंने कॉर्नेल विश्वविद्यालय से Architecture में डिग्री प्राप्त की।
  • 1975 में, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के सात-सप्ताह के उन्नत प्रबंधन कार्यक्रम में भाग लिया।
  • 1991 में, जे आर डी टाटा ने टाटा संस के अध्यक्ष के रूप में पद छोड़ दिया, उन्हें अपना उत्तराधिकारी नामित किया।
  • रतन नवल टाटा एक भारतीय उद्योगपति, परोपकारी और टाटा संस के पूर्व अध्यक्ष हैं।

Ratan Tata Success Story In Hindi

  • टाटा एक पारसी पुजारी परिवार से थे, जो मूल रूप से पूर्व बड़ौदा राज्य (अब गुजरात) से आए थे।
  • Tata परिवार के संस्थापक जमशेदजी नसरवानजी टाटा थे।
  • रतन टाटा गोद लिए गए थे, और टाटा को उनकी दादी ने पाला था।
  • वह मांसाहारी है|
  • रतन टाटा को पुराने हिंदी गाने सुनना, पेंटिंग करना, पियानो बजाना और अपने पालतू कुत्तों के साथ खेलना बहुत पसंद है।
  • उन्होंने कभी शादी नहीं की।
  • एक इंटरव्यू में रतन टाटा ने अमेरिका में एक युवा महिला के साथ प्यार में पड़ने की बात स्वीकार की थी।
  • वह 1990 से 2012 तक टाटा ग्रुप के अध्यक्ष रहे।
  • 21 वर्षों के दौरान उन्होंने टाटा समूह का नेतृत्व किया, जिसमें रेविन्यू 40 गुना और प्रॉफ़िट 50 गुना से अधिक बढ़ा।

Ratan Tata Success Story In Hindi

Ratan Tata Favourite Food in hindi

  • उनका पसंदीदा भोजन मटन पुलाव और बहुत सारे लहसुन के साथ मसूर दाल है।
  • उनका पसंदीदा रंग सफेद है|
  • उनका पसंदीदा हॉलिडे डेस्टिनेशन कैलिफोर्निया है।
  • उनकी कुल संपत्ति 1 बिलियन है।
  • रतन टाटा धूम्रपान नहीं करते और शराब नहीं पीते हैं।
  • रतन टाटा 1961 में टाटा समूह में शामिल हुए|
  • रतन टाटा मुंबई के कोलाबा क्षेत्र में तीन मंजिला मकान में रहते हैं।
  • रतन टाटा को फ्लाइट और फ्लाइंग बहुत पसंद है। वह एक कुशल पायलट हैं।
  • रतन टाटा 2007 में एफ-16 फाल्कन पायलट करने वाले पहले भारतीय थे।

Ratan Tata Success Story In Hindi

Tata Company in hindi
  • उन्होंने साहसपूर्वक टाटा टी को टेटली, टाटा मोटर्स को जगुआर लैंड रोवर और टाटा स्टील को कोरस का अधिग्रहण करने के लिए प्राप्त किया।
  • 26/11 बम धमाकों से जिन परिवारों को नुकसान हुआ, उन्हे रतन टाटा ने मुफ़्त इलाज करवाने दिया और उनके लिए अपने होटल ताज को भी मुफ़्त कर दिया था|
  • ये इतने साधारण और उच्च इंसान है की एक बार इनकी गाड़ी बीच रास्ते में खराब हो गई तो ये अपने ड्राइवर की मदद करने लगे उसे ठीक करने में |
  • टाटा का 65% रेविन्यू 100 से अधिक देशों में Operation और बिक्री से आ रहा है।
  • टाटा शिक्षा, चिकित्सा और ग्रामीण विकास के समर्थक हैं, और भारत में सबसे प्रमुख परोपकारी व्यक्ति माने जाते हैं।
  • 2010 में, टाटा चैरिटी ने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल में एक कार्यकारी केंद्र के निर्माण के लिए $50 मिलियन का दान दिया था।
  • 2013 में, उन्हें कार्नेगी एंडोमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस के न्यासी बोर्ड में नियुक्त किया गया था।
  • फरवरी 2015 में, रतन ने वाणी कोला द्वारा स्थापित एक उद्यम पूंजी फर्म कलारी कैपिटल में एक सलाहकार की भूमिका निभाई।
  • रतन टाटा को 2000 में पद्म भूषण और 2008 में पद्म विभूषण मिला।
  • 2004 में उन्हे एशियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के तरफ से Honorary डॉक्टरेट ऑफ टेक्नोलॉजी का खिताब मिला।
  • 2006 में उन्हे भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास के तरफ से Honorary डॉक्टरेट ऑफ साइंस का खिताब मिला।
  • 2014 में उन्हे सिंगापुर मैनेजमेंट यूनिवर्सिटी के तरफ से बिजनेस के Honorary डॉक्टरेट का खिताब मिला।
  • 2018 में उन्हे स्वानसी विश्वविद्यालय के तरफ से Honorary डॉक्टरेट का खिताब मिला।

Conclusion

तो यह थी Ratan Tata Success Story In Hindi से जुड़ी सारी जानकारी ,

क्या आप रतन टाटा से जुड़े कुछ रोचक तथ्य जानते है, जो शायद हम भूल गए हो,तो कमेन्ट मे जरूर बताए |

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *