SEO kya hai ? | What is SEO In Hindi | 5 चीजें जो आपके SEO में बड़ा बदलाव लाएंगे

क्या आप SEO के बारे में सब कुछ सीखना चाहते हैं? इससे पहले कि मैं आपको बताऊँ कि यह कैसे काम करता है और इसे कैसे करना है, आइए पहले SEO Kya hai जानते है,

इसके बाद हम SEO कैसे काम करते हैं, इस पर ध्यान देंगे।

SEO Kya hai ?

SEO का फूल फॉर्म सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन है।

SEO किसी वेबसाइट या कंटेन्ट के पार्ट को Google पर उच्च रैंक दिलाने में मदद करने के लिए एक प्रक्रिया है।

आसान भाषा में समझे तो , इसका अर्थ यह है कि जब लोग Google, बिंग और अन्य सर्च इंजनों में आपके बिजनस से संबंधित प्रोडक्ट एण्ड सर्विस की खोज करते हैं, 

तो आपकी साइट की Visibility बढ़ाने के लिए इसे बेहतर बनाने की प्रक्रिया है।

SEO और Paid Advertising के बीच महत्वपूर्ण अंतर यह है कि SEO में “ऑर्गेनिक” रैंकिंग शामिल है, 

जिसका अर्थ है कि आप गूगल पेज पर रहने के लिए कोई भुगतान नहीं करते हैं।

इसे थोड़ा आसान बनाने के लिए, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का अर्थ है:-

ऑनलाइन कंटेन्ट का एक पार्ट लेना और इसे ऑप्टिमाइज़ करना ताकि जब कोई कुछ खोजता है, 

तो Google जैसे सर्च इंजन उसे अपने पेज के शीर्ष रैंकिंग पर दिखाते हैं।

SEO कैसे काम करता है?

गूगल और बिंग जैसे सर्च इंजन बॉट्स का उपयोग वेब पर पेजों को क्रॉल करने, एक साइट से दूसरे साइट पर जाने, उन पेजों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने और उन्हें एक इंडेक्स में डालने के लिए करते हैं।

सर्च इंजन डिजिटल दुनिया के लिए पुस्तकालय (library) की तरह हैं।

पुस्तकों की पेज को इकट्ठा करने के बजाय, वे वेब पेजों को इकट्ठा करते हैं।

जब आप किसी सर्च इंजन में कोई प्रश्न टाइप करते हैं, तो वह अपनी Index के सभी वेब पेज को देखता है और उससे जुड़े सबसे सटीक जवाब का परिणाम लौटाने का प्रयास करता है।

ऐसा करने के लिए, यह एक कंप्यूटर प्रोग्राम का उपयोग करता है जिसे एल्गोरिथम कहा जाता है।

इसके बाद, एल्गोरिदम इंडेक्स में Page का विश्लेषण करता है, 

गूगल के पहले पेज पर आने के लिए 100 से भी ज्यादा नियम का पालन करना होता है|

इस तरह से सर्च बॉट अनुमान लगाते हैं कि कोई वेबसाइट या वेब पेज खोजकर्ता को वह कितना अच्छा जवाब दे सकता है जो वे खोज रहे हैं।

Paid सर्च विज्ञापनों के विपरीत, इसमें गूगल के पहले पेज पर रैंक होने के लिए आपको कोई भुगतान नहीं करना पड़ता है |

SEO बिजनस के लिए क्यूँ जरूरी है?

SEO business in Hindi

SEO, डिजिटल मार्केटिंग का एक मूलभूत हिस्सा है क्योंकि लोग हर साल लगभग खरबों सर्च करते हैं, अक्सर बिजनस के इरादे से प्रोडक्ट एण्ड सर्विस के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए होता है।

सर्च इंजन अक्सर ब्रांडों के लिए डिजिटल ट्रैफ़िक का प्राथमिक स्रोत होता है|

गूगल के पहले पेज में आप जितना उच्च रैंक करेंगे आपके बिजनस को उतना फायदा होगा और आप अपने प्रतिस्पर्धी से काफी आगे रहेंगे |

हालांकि, सर्च इंजन परिणाम पिछले कुछ वर्षों में विकसित हो रहे हैं ताकि उपयोगकर्ताओं को अधिक सटीक उत्तर और जानकारी दी जा सके जो उपयोगकर्ताओं को अन्य वेबसाइटों पर ले जाने के बजाय रिजल्ट पेज पर रखने की अधिक संभावना है।

संक्षेप में कहे तो , SEO पूरे मार्केटिंग Ecosystem का फाउंडेशन है |

जब आप समझ जाते हैं कि आपकी वेबसाइट के यूजर क्या चाहते हैं, 

तो आप उस ज्ञान को अपने कैम्पैन (Paid और ऑर्गेनिक), अपनी वेबसाइट पर, अपनी सोशल मीडिया और अन्य जगह लागू कर सकते हैं।

SEO के प्रकार हिंदी में

SEO तीन प्रकार की है जिससे गूगल तय करता है की कौन सी वेबसाईट गूगल के पहले पेज पर रैंक करेगा आइए जाने इनके प्रकार :-

1. ऑन-पेज SEO Kya hai

ऑन-पेज SEO आपकी रैंकिंग में सुधार करने के लिए कंटेन्ट बनाने से जुड़ी है|

  • यह आपके Pages और कंटेन्ट में 
  • keywords को शामिल करने, 
  • नियमित रूप से High-Quality कंटेन्ट लिखने,
  • आपके मेटाटैग 
  • टाइटल
  • कीवर्ड 

    का ध्यान रखता है।

2. ऑफ-पेज SEO Kya hai

ऑफ-पेज एसईओ आपकी वेबसाइट से ही हो रहा Customization है, जैसे कि बैकलिंक्स अर्जित करना।

इसमें ऐसी सामग्री बनाना शामिल है जिसे लोग शेयर करना चाहते हैं।

हालाँकि इसमें बहुत अधिक मेहनत लगती है, लेकिन यह SEO की सफलता का अभिन्न अंग है।

3. टेक्निकल SEO Kya hai

टेक्निकल SEO वेबसाइट और सर्वर से जुड़े है, जो सर्च इंजन की मकड़ियों को आपकी साइट को अधिक प्रभावी ढंग से क्रॉल और अनुक्रमित करने में मदद करता है ( रैंकिंग में सुधार करने में मदद करने के लिए)।

Local SEO Kya hai

लोकल SEO एक ऐसी रणनीति है जो आपके बिजनस को Google पर लोकल सर्च रिजल्ट्स में अधिक से अधिक लोगों तक पहुचाने में मदद करती है।

कोई भी बिजनस जिसका Physical स्थान है या भौगोलिक क्षेत्र में कार्य करता है, वह लोकल SEO की मदद से आओने बिजनस को बढ़ा सकता है।

यदि आप अपने बिजनस से संबंधित किसी भी महत्वपूर्ण कीवर्ड के लिए Google पर सर्च करते हैं और उसके नीचे 3 लिस्टिंग वाला नक्शा दिखाई देता है (जिसे मैप पैक भी कहा जाता है), तो लोकल SEO आपके बिजनस को बढ़ाने में आपकी मदद कर सकता है।

यूट्यूब SEO Kya hai

YouTube SEO आपके YouTube वीडियो और चैनल को YouTube के माध्यम से अपनी रैंकिंग बढ़ाने के लिए Optimise करने की एक प्रक्रिया है।

YouTube SEO आपके चैनल के पेज, प्लेलिस्ट, मेटाडेटा,डिस्क्रिप्शन और वीडियो को अनुकूलित करने का अभ्यास है।

आप अपने वीडियो को YouTube के सर्च इंजन के साथ-साथ अन्य सर्च इंजनों के लिए अनुकूलित कर सकते हैं।

SEO के लिए बेस्ट रणनीति क्या है?

SEO Strategy in hindi
  • अपने Keywords को जानें।
  • Long Tail कीवर्ड का उपयोग करें।
  • हाई Quality कंटेन्ट लिखे
  • नए और फ्रेश कंटेन्ट लिखे।
  • पुराने कंटेन्ट को अपडेट करें।
  • अपने वेबसाइट पेज के URL में कीवर्ड का प्रयोग करें।
  • पेज टाइटल को नज़रअंदाज़ न करें।
  • अतिरिक्त कीवर्ड प्लेसमेंट के लिए प्रत्येक पेज की समीक्षा करें।
  • यूजर के अनुभव में सुधार करें और करते रहें।

SEO और SEM में क्या अंतर है?

इन दोनों मुख्य अंतर यह है कि SEO, Organic रिजल्ट्स से Traffic प्राप्त करने के लिए वेबसाइट को अनुकूलित करने पर केंद्रित है।

दूसरी ओर, सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM) का लक्ष्य ऑर्गेनिक और Paid सर्च दोनों से ट्रैफ़िक और Visibility प्राप्त करना है।

क्या SEO में Pagespeed मायने रखता है ?

सरल उत्तर यह है कि पेज की गति SEO को प्रभावित करती है।

पेज की गति एक डायरेक्ट रैंकिंग फैक्टर है, आपका पेज जितना तेजी से खुलेगा आपके गूगल में रैंक होने की उम्मीद उतनी ज्यादा रहेगी |

Conclusion

तो यह था SEO kya hai से जुड़ी सारी जानकारी,

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें,

और क्या आप अनलाइन बिजनस और Marketing से जुड़ी ऐसी जानकारी चाहते है,

तो इसे शेयर करें और कमेन्ट में हमे अपना टॉपिक बताए|

Leave a Reply

Your email address will not be published.