What is SEO In Hindi (2022) | SEO काम कैसे करता है? | Full Details in Hindi

What is SEO In HindiSEO किसी वेबसाइट या कंटेन्ट के पार्ट को Google पर उच्च रैंक दिलाने में मदद करने के का एक प्रोसेस है।

यह आपके वेब पेज को Google और अन्य सर्च इंजन के सर्च रिजल्ट में एक हाई रैंक पर पहुँचाने का सबसे बढ़िया तरीका है|

इसका मतलब है कि ऑनलाइन सर्च करते समय लोगों को आपकी वेबसाइट Google पर दिखने की अधिक संभावना होगी।

SEO क्या है?
What is SEO in Hindi

What is SEO in Hindi

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) एक सर्च इंजन की Organic रैंकिंग से किसी वेबसाइट पर टारगेटेड ट्रैफिक प्राप्त करने का सिस्टम है।

SEO का अच्छे तरह से उपयोग करने के लिए आपको high quality कंटेन्ट बनाना, कीवर्ड रिसर्च के आसपास कंटेन्ट लिखना और बैकलिंक्स बनाना शामिल है।

SEO बिल्कुल Organic तरीका है वेबसाईट को हाई रैंकिंग दिलाने के लिए आपको पैसे की आवश्यकता नहीं है।

यदि आपके पास एक वेबसाइट है और आप अधिक ट्रैफ़िक प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसमें कोई संदेह नहीं है:- SEO आपके मार्केटिंग स्ट्रैटिजी का अहम हिस्सा होना चाहिए।

वेबसाइटों को उनकी कंटेन्ट में सुधार करके, कंटेन्ट को विशिष्ट बनाकर, और वेब पेज को सही ढंग से इंडेक्स करके, SEO रैंकिंग में सुधार किया जा सकता है।

SEO का सही इस्तेमाल करना आपके ब्लॉग या कंपनी का मार्केट में स्थिति बदल सकता है।

जब कोई वेबसाइट शीर्ष पर होगी, तो उसे Automatic रूप से अधिक ट्रैफ़िक और अधिक संख्या में व्यूज प्राप्त होंगे।

SEO full form in hindi

SEO का मतलब है Search Engine Optimization ।

यह सर्च इंजन रिजल्ट में वेबसाइट को High Rank पर लाने या बढ़ाने के लिए कुछ SEO टूल को लागू करके वेबसाइट के दर्शकों की संख्या बढ़ाने का एक प्रक्रिया है।

SEO काम कैसे करता है?

SEO आपकी वेबसाइट को उस सर्च इंजन के लिए Optimize करके काम करता है जिसके लिए आप रैंक करना चाहते हैं, चाहे वह Google, Bing, Amazon, या YouTube हो।

विशेष रूप से, आपका काम यह सुनिश्चित करना है कि सर्च इंजन आसानी से आपकी बातों को समझ जाए जिसके मदद से वह दर्शकों तक Quality कंटेन्ट का रिजल्ट दिखाए |

गूगल “बेस्ट ” रिजल्ट कैसे निर्धारित करते हैं, यह एक एल्गोरिथ्म पर आधारित होता है जो कंटेन्ट के Quality को , टॉपिक से मिलता-जुलता कंटेन्ट, लोडिंग गति और बहुत कुछ को ध्यान में रखता है।

(उदाहरण के लिए, Google के एल्गोरिथम में 200 से अधिक रैंकिंग फैक्टर हैं।)

ज्यादातर मामलों में, जब लोग “सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन” के बारे में सोचते हैं, तो वे “Google SEO” के बारे में सोचते हैं।

SEO और SEM में क्या अंतर है?

SEO और SEM वास्तव में एक ही सिक्के के दो पहलू हैं, लेकिन उनमें बहुत अलग क्रियाएं होती हैं और मार्केटिंग के अलग-अलग पहलुओं से संबंधित होती हैं।

SEO और SEM के बीच मुख्य अंतर यह है: SEO मुफ़्त है और ऑर्गेनिक सर्च रिजल्ट पर निर्भर करता है, जबकि SEM लागत के साथ आता है और भुगतान किए गए विज्ञापन (Ad) पर निर्भर करता है।

SEO और SEM के बीच अन्य अंतर :-

  • SEM के सर्च रिजल्ट एक यूजर को विज्ञापन (Ad) के रूप में दिखाई देते हैं, जबकि SEO Strategy के रिजल्ट ऐसे नहीं होते हैं।
  • SEM रिजल्ट में Ad एक्सटेंशन होते हैं |
  • हर बार जब कोई उनके विज्ञापन पर क्लिक करता है तो उस वेबसाइट का मालिक गूगल को भुगतान करता है।
  • SEO एक फ्री और long-term प्रोसेस है जिसका समय के साथ मूल्य बढ़ते जाता है।
  • SEM एक शॉर्ट-टर्म प्रोसेस हैं लेकिन इसमें आपको रिजल्ट जल्दी मिलते है।

SEO kaise kare in hindi

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की दुनिया में बहुत कुछ बदल गया है – और बहुत सारे SEO टिप्स हैं।

हालांकि, SEO से जुड़े Basic Rule वही है जिसे कभी बदला नहीं गया :-

अपने Main Keyword को कंटेन्ट के शुरुआत में जरूर रखे

यह कोई रहस्य नहीं है कि आप अपने कीवर्ड को अपने पेज पर कई बार इस्तेमाल करना चाहते हैं।

लेकिन आप शायद यह नहीं जानते होंगे कि आपके कीवर्ड की लोकेशन से भी फर्क पड़ता है।

Google वेबपेज के टॉप पर दिखाई देने वाले कंटेन्ट पर अधिक ध्यान देता है।

Unique Titles, Description और Content लिखे

हमेशा यूनीक टाइटल ,डिस्क्रिप्शन और कंटेन्ट लिखने का प्रयास करें क्यूंकी गूगल कभी भी डुप्लिकेट कंटेन्ट को रैंक नहीं करता है|

वास्तव में, Google ने कहा है कि आपको अपनी वेबसाईट पर डुप्लिकेट कंटेन्ट लिखने से बचना चाहिए |

अपने टाइटल टैग को Optimize करें

जब ऑन-पेज SEO की बात आती है, तो आपका टाइटल टैग KEY होता है।

Google ने यहां तक कहा है कि: “आपके वेब पेजों पर high-Quality वाले टाइटल का उपयोग करना महत्वपूर्ण है।”

वेबसाईट के लोडिंग स्पीड को तेज करने की कोशिश करें

SEO में पेज स्पीड एक महत्वपूर्ण फैक्टर है।

एक धीमा पेज यूजर को निराश करता है और अंततः लोगों को आपका प्रोडक्ट खरीदने से निराश कर सकता है।

स्ट्रेंज लूप के डेटा से पता चलता है कि पेज लोड समय में केवल एक सेकंड की देरी से Conversion में 7% का भारी नुकसान हो सकता है।

अपने दर्शकों के लिए पहले लिखे , इसके बाद सर्च इंजन के लिए

जब आप कंटेन्ट लिखना शुरू करते है हमेशा अपने दर्शकों को ध्यान में रख कर लिखे और उनके लिए महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने की कोशिश करें |

अपने URL को simple रखने की कोशिश करें

यदि यूजर आपके URL को अच्छे से पढ़ या समझ नहीं सकते हैं, तो सर्च इंजन भी भ्रमित हो सकते हैं।

इस लेख का URL देखें: https://insidegyaan.com/what is SEO in Hindi/

ऊपर दिया गया URL लंबा है, लेकिन यूजर और सर्च इंजन दोनों के लिए इसे समझना आसान है।

सोशल मीडिया अकाउंट बनाए

सोशल मीडिया SEO रणनीति का एक अभिन्न अंग है और सोशल सिगनल महत्वपूर्ण हैं।

यह सच है कि Google ने अपने रैंकिंग एल्गोरिथम फैक्टर में सोशल सिगनल को नहीं जोड़ा है, लेकिन सोशल सिगनल सर्च इंजन रैंकिंग को प्रभावित करते हैं।

इमेज में सही Keywords का इस्तेमाल करें

Image, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के नजरिए से बहुत महत्वपूर्ण हैं।

Google ने अपने सर्च रिजल्ट का एक संपूर्ण भाग Image को समर्पित किया है।

इससे आपको पता चलेगा कि सर्च इंजन Images को लेकर कितना चिंतित है।

Internal Link का इस्तेमाल करें

Internal Link उपयोग करने के लिए सबसे आसान SEO स्ट्रैटिजी में से एक है।

आपको बस अपनी साइट के एक पेज से अपनी साइट के दूसरे पेज पर एक लिंक जोड़ने की आवश्यकता है।

Types of SEO in Hindi

Wordpress वेबसाईट कैसे बनाए |

SEO सबसे प्रभावी डिजिटल मार्केटिंग स्ट्रैटिजी में से एक है जिसमें आप अपना समय निवेश कर सकते हैं, और ऐसे कई तरीके हैं जिसके मदद से आप इसका लाभ उठा सकते हैं।

यहां चार प्रमुख प्रकार के SEO हैं जिन पर आप शुरुआत कर सकते हैं।

On-page SEO in Hindi

ऑन-पेज SEO, जिसे कभी-कभी ऑन-साइट SEO भी कहा जाता है, यह आपकी वेबसाइट पर कंटेन्ट को Optimize करने की प्रक्रिया है।

इसमें आपकी बॉडी कॉपी, कीवर्ड, हेडर, मेटा टाइटल, मेटा डिस्क्रिप्शन, इमेज और बहुत कुछ शामिल रहते हैं।

On page SEO in Hindi से जुड़े कुछ टिप्स :-

  • बेस्ट कीवर्ड रिसर्च करें – उन शब्दों को निर्धारित करें जिन्हें आप सर्च इंजन पर रैंक करना चाहते हैं।
  • मेटाडेटा ऑप्टिमाइज़ करें – मेटाडेटा Google और यूजर को पेज के कंटेन्ट के बारे में बताता है।
  • इंटरनल लिंकिंग करें – इंटरनल लिंक्स ऐसे URL होते हैं जो आपकी वेबसाइट के दूसरे पेजों से लिंक होते हैं।

Off page SEO in Hindi

ऑफ-पेज SEO काफी हद तक वह सब कुछ है जो आपकी वेबसाइट पर नहीं होता है।

ऑफ-पेज SEO आपकी कंपनी के लिए एक्सपोजर और विश्वास पैदा करने के बारे में है, जिसके परिणामस्वरूप अंततः अधिक विज़िटर और बिक्री हो सकती है।

अधिकांश ऑफ-पेज SEO कार्य लिंक बिल्डिंग पर केंद्रित है।

यदि आप अनजान हैं, तो लिंक बिल्डिंग अन्य प्रतिष्ठित वेबसाइटों को आपकी साइट पर वापस लिंक करने का तरीका है।

Off page SEO in Hindi से जुड़े कुछ टिप्स :-

  • गेस्ट पोस्टिंग – कई ब्लॉग हैं और ऑनलाइन प्रकाशन आपके द्वारा पिच की गई पोस्ट को स्वीकार और प्रकाशित करेंगे।
  • अपने कम्पटीशन का रिसर्च करें – अपने सबसे बड़े प्रतिस्पर्धी की बैकलिंक प्रोफ़ाइल देखें।

Technical SEO in Hindi

Technical SEO आपकी वेबसाइट को क्रॉल करने और यूजर एक्सपीरियंस (UX) को बढ़ाने के लिए सर्च इंजनों की मदद करने के लिए किए गए कार्यों को रिफर करता है।

जैसे-जैसे सर्च इंजन और उनके एल्गोरिदम अधिक कठिन होते जाते है तो SEO प्रोसेस भी समय के साथ बदलते रहते है |

टेक्निकल SEO आपके वेबसाईट इंडेक्स में किसी भी गलती को पहचानने और उसे ठीक करने में मदद करता है|

Technical SEO in Hindi से जुड़े कुछ टिप्स :-

  • वेबसाईट स्पीड – एक तेज़ वेबसाइट की गति हमेशा बेहतर होती है, और हाल ही में, Google ने वेबसाईट स्पीड को भी रैंकिंग फैक्टर में शामिल किया है|
  • मोबाइल फ़्रेंडली – कई यूजर प्रोडक्टस और सर्विस को खोजने के लिए मोबाईल का इस्तेमाल करते है|
  • मोबाइल डिवाइस पर अपनी साइट की जांच करके सुनिश्चित करें कि मोबाइल के माध्यम से आने वाले किसी भी विज़िटर के लिए वेबसाईट इस्तेमाल करना आसान है।
  • साइट स्ट्रक्चर – अपने साइट में HTTPS इस्तेमाल करें , Sitemap बनाए और Schema Markup का इस्तेमाल करें |

Local SEO in Hindi

Local SEO राष्ट्रीय फोकस के बजाय एक विशिष्ट क्षेत्र पर केंद्रित है।

यह आपके कम्यूनिटी में आपकी ऑनलाइन उपस्थिति बढ़ाने और लोकल ग्राहकों के लिए आपके प्रोडक्ट या सर्विस का प्रचार करने के बारे में है।

अक्सर, आप Google पर कितनी अच्छी रैंक करते हैं, यह आपकी Google My Business प्रोफ़ाइल पर निर्भर करता है।

यह वह जगह है जहां आप अपना पता, विवरण, रिव्यूज और तस्वीरें शामिल करते हैं।

Local SEO से जुड़े कुछ टिप्स:-

  • यह लोकल कस्टमर को टारगेट करने के लिए मददगार है |
  • यह बिल्कुल मुफ़्त है|
  • लोकल स्तर पर रैंक करने का एक बड़ा अवसर है क्योंकि केवल 44% बिजनस ही अपनी Google My Business लिस्टिंग का दावा करते हैं|

कुछ तरीकों से आप अपने Local SEO में सुधार कर सकते हैं, जिसमें लोकल लैन्डिंग पेज लिखना, अपने स्थानीय प्रोफाइल को Optimize करना, Google Map पर स्पैम सबमिट करना, लोकल लिंक बनाना, और बहुत कुछ शामिल हैं।

SEO सीखने के लिए 5 बेस्ट Youtube चैनल

FAQ

जी हाँ, अगर कोई ऐसा कीवर्ड है जिसको बहुत कम लोग सर्च कर रहे है तो आपका वेबसाईट बिना SEO के भी रैंक कर सकता है|

SEO 4 प्रकार के होते है :- On-Page SEO Off-Page SEO Technical SEO Local SEO

Organic रिजल्ट का मतलब है बिना किसी पैसे के गूगल पर रैंक करना| Inorganic रिजल्ट का मतलब है पैसे देकर Ad चलाना |

इसका उत्तर इतना सरल नहीं है क्यूंकी SEO हमेशा समय के साथ बदलता रहता है जिसके वजह से नए लोगों को परेशानी हो सकती है|

जी हाँ, पेज स्पीड गूगल रैंकिंग में बहुत मायने रखता है क्यूंकी यह गूगल के रैंकिंग फैक्टर में से एक है |

Conclusion

आज आपने SEO क्या है ? What is SEO in Hindi ? SEO काम कैसे करता है? इसके बारे में सीखा है|

क्या आप SEO से जुड़ी कुछ ऐसी बातें जानते है,जो शायद हम बताना भूल गए हो,तो कमेन्ट मे जरूर बताए |

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें|

3 thoughts on “What is SEO In Hindi (2022) | SEO काम कैसे करता है? | Full Details in Hindi

  • 19/10/2022 at 4:46 pm
    Permalink

    वित्तीय स्वतंत्रता के लिए ऑनलाइन कमाई सबसे आसान तरीका है । Telegram – @Cryptaxbot

    Reply
  • 01/06/2022 at 10:46 am
    Permalink

    Please post a particular blog about youtube SEO.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *